Breast शब्द को खेल समझने वाले लड़कों को लड़की ने सिखाया सबक, अपनाया ये तरीका

इस्लामाबाद। पुरुषों की गिरी हुई सोच से एक बार फिर लड़की का नुकसान हुआ है। पाकिस्‍तान के एक कॉलेज में लड़कों ने जब ‘ब्रेस्‍ट कैंसर’ का मजाक उड़ाया तो वहां से गुजर रही लड़की को अच्‍छा नहीं लगा। उस लड़की ने उन्‍हें सोशल मीडिया पर ऐसा जवाब दिया कि सभी की बोलती बंद हो गई।

लड़की का नाम फमा हसन है और वह उन्‍हीं लड़कों के कॉलेज में पढ़ती है। फमा ने लड़कों की छिछोरी बातों को फेसबुक पर शेयर किया। इसके साथ ही फमा ने एक मैसेज भी लिखा, ‘ब्रेस्‍ट कैंसर को लड़के जितना छोटा समझते हैं वह उतना होता नहीं है।

पाकिस्‍तान में ही तकरीबन 40 हजार महिलाएं ब्रेस्‍ट कैंसर का शिकार होती हैं। यही नहीं एशिया में सबसे ज्‍यादा ब्रेस्‍ट कैंसर से पीड़ित पाकिस्‍तानी महिलाएं हैं। इनमें से अधिकांश को मेडिकल सुविधाएं नहीं मिल पाती हैं और उनकी मौत हो जाती है।

ब्रेस्‍ट कैंसर

फमा को लड़कों ने मारे ये ताने

‘ब्रेस्‍ट कैंसर’ शब्द का लड़के सिर्फ इसलिए मजाक बना रहे थे, क्‍योंकि इसके साथ ‘ब्रेस्‍ट’ शब्‍द जुड़ा था। इसमें एक युवक का कहना था कि, ‘ओए वो क्‍या कह रहे थे’ तो दूसरे का जवाब था, ‘पता नहीं यार ‘ब्रेस्‍ट कैंसर’ का कुछ करने आए थे।

इन दोनों की बातें सुनकर तीसरा खूब जोर-जोर से हंसने लगा। तभी वहां निकल रही फमा ने ये बातें सुन लीं। उस समय लड़की को गुस्‍सा तो बहुत आया लेकिन उसने वहां पर जवाब देने के बजाए सोशल मीडिया पर लड़कों को बेइज्‍जत करना बेहतर समझा।

फमा के अनुसार वो चार लड़के जो ग्रुप में बैठकर ब्रेस्ट शब्द का मजाक उड़ा रहे थे, सबसे पहले उन्‍हें शिक्षित होने की जरूरत है। उन्‍हें यह समझना होगा कि महिलाओं के अंग सिर्फ उपभोग की वस्‍तु नहीं हैं। महिलाएं भी इंसान हैं उनके भी अंगों में बीमारी हो सकती है। इसलिए ऐसी सोच रखने वालों को अपना दिमाग साफ कर लेना चाहिए।

Loading...
loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *