GST को #GabbarSinghTax बताकर राहुल गांधी ने उड़ाई मोदी सरकार की खिल्ली, पढ़िए 10 खास बातें  

गांधीनगर। GST पर मोदी सरकार पर बातों के बाण जारी हैं। पहले नोटबंदी ने घेरा और अब जीएसटी ने बेहाल कर रखा है। आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान मोदी सरकार पर जमकर तंज कसे। सोमवार को गांधीनगर में अल्पेश ठाकुर की तरफ से आयोजित ‘नवसर्जन गुजरात जनादेश’ रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने क्या कहा ये पढ़ना आपके लिए बहुत जरूरी है।

राहुल के भाषण की 10 खास बातें

– रैली में राहुल गांधी बोले कि गुजरात के युवाओं को रोजगार देने की बात करने वाली भाजपा सरकार पूरी तरह फेल है। गुजरात का युवा मोदी सरकार से तंग है और वह अब शांत होने वाला नहीं है। गुजरात में 30 लाख बेरोजगार युवा है।

– गुजरात में सिर्फ 5-10 कारोबारी सरकार चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता की आवाज नहीं सुनी जा रही है इसीलिए गुजरात का समाज आज खुद सड़कों पर उतरकर अपना हक मांग रहा है।

गब्बर सिंह टैक्स

– सरकार कितना भी पैसा क्यों न लगाएं लेकिन गुजरात की आवाज को खरीदा नहीं जा सकता है। इतिहास के उदाहरण देते हुए राहुल ने कहा कि अंग्रेजी हुकूमत में भी गुजरात की आवाज को दबाने की कोशिश की गई लेकिन गांधी जी, सरदार पटेल जैसे महापुरुषों की आवाज को दबाया नहीं जा सका।

– शिक्षा व्यवस्था 5-10 उद्योगपतियों के हाथों में चली गई है। गुजरात का युवा जब कॉलेज पढ़ने जाता है तो उससे पैसा मांगा जाता है लेकिन वह उतना पैसा देने में सक्षम नहीं होता।

– देश के बड़े कारोबारियों का एक लाख 30 हजार करोड़ रुपया माफ किया। लेकिन गुजरात का किसान जो मेहनत करता है उसका कर्जा माफ नहीं किया जाता।

– मोदी जी ने कहा था कि न खाऊंगा, न खाने दूंगा। लेकिन जय शाह की कंपनी 50 हजार रुपए से शुरू होकर 80 करोड़ तक पहुंच गई। उन्होंने कहा कि जय शाह ज्यादा खा गया, लेकिन मोदी जी कुछ नहीं बोले।

– युवाओं की समस्याएं, बेरोजगारी, स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए जो भी कांग्रेस पार्टी कर सकती है वह पूरे दिल से करेगी। उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता के बिना यह काम नहीं किया जा सकता।

– नोटबंदी लागू कर देश पर कुल्हाड़ी मारी। मोदी जी को भी नहीं समझ आया कि क्या हुआ। नोटबंदी फेल होने पर अपने लिए सजा मांगी थी। आज हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था को नोटबंदी से चौपट है।

– जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताते हुए राहुल बोले जीएसटी हम लाए और उसमें कारोबारियों की दिक्कतें दूर करने के सभी प्रावधान थे लेकिन सरकार ने हमारी एक भी बात नहीं मानी। कांग्रेस एक टैक्स लगाना चाहती थी लेकिन सरकार 5-5 टैक्स लेकर आ गई। अब नतीजा ये हुआ कि कारोबारी जीएसटी से परेशान है और बिजनेस ठप है।

– 15 लाख रुपए देने की बात चुनावी जुमला बन गई है। मोदी जी ने चुनाव जीतने के लिए कहा था लेकिन अब तो चुनाव हो चुका है। इसलिए 15 लाख कब मिलेंगे ये कोई बताए।

Also Read:  OMG- बिग बॉस 11 में ढिंचैक पूजा की एंट्री, हिना खान से भी ज़्यादा लेंगी फीस

Also Read: अब पॉवर आपके हाथों में… ये सुविधाएं न मिलने पर रद्द करवा सकते हैं पेट्रोल पंप का लाइसेंस

Loading...
loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *