दो साल बाद मिली पाकिस्तान की लापता महिला पत्रकार, भारतीय नागरिक की मदद करने पर हुआ था अपहरण

इस्लामाबाद-  पाकिस्तानी महिला पत्रकार जीनत शाहजादी का दो साल पहले एक भारतीय इंजीनियर के मामले में काम करते समय अपहरण हो गया था। उन्हें 2 साल बाद सही सलामत रिहा करा लिया गया है।

19 अगस्त 2015  को हुईं थी लापता

दरअसल, जीनत  हामिद  निहाल अंसारी की छानबीन करते समय खुद पकिस्तान के जेल में कैद हो गई थीं। मेट्रो न्यूज टीवी चैनल और डेली नई खबर की जर्नलिस्ट जीनत शहजादी 19 अगस्त 2015 को घर से ऑफिस जाते समय अचानक लापता हो गई थी।

जीनत उस वक्त लापता हुई थी जब उसने पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में भारत के नागरिक हामिद निहाल अंसारी की मां फौजिया के लापता होने की याचिका दायर की थी। हामिद अंसारी को जासूसी के आरोप में तीन साल की सजा सुनाई गई थी, जिसके बाद से ही जीनत लापता हो गई थीं।

सदमे में भाई ने की थी खुदकुशी

जीनत के भाई सद्दाम हुसैन ने 2016 में आत्महत्या कर ली थी। जबकि जीनत के बड़े भाई सलमान का कहना है कि, हुसैन बहन के लापता होने से काफी परेशान थे।

हामिल की मां ने जताई खुशी

वहीं जीनत के मिल जाने के बाद फौजिया ने कहा कि, वह इस खबर के सामने आने के बाद काफी खुश हैं। उन्होने बताया कि, जब अपने बेटे और जीनत में से किसी एक को चुनने को कहा था तो मैंने जीनत को चुना था। फौजिया ने जीनत से आखिरी बार अगस्त 2015 में मुलाकात की थी। दोनों एक दूसरे से इससे पहले अक्सर बातें करते थे।

कमिशन ऑफ इन्क्वायरी ऑन इन्फोर्स्ड डिसअपीयरेंस अध्यक्ष जस्टिस जावेद इकबाल ने शुकावार शाम को जानकारी दी कि, पाकिस्तान-अफगानिस्तान की सीमा पर एक इलाके से गुरुवार रात को महिला पत्रकार जीनत को रिहा करा लिया गया है।

सरकार विरोधी एंजेसियों ने किया था अपहरण

इकबाल ने बताया कि, सरकार विरोधी एंजेसियों ने जीनत का अपहरण कर लिया था लेकिन अब उन्हें उनकी गिरफ्त से छुड़ा लिया गया है। बलूचिस्तान और खैबर-पख्तुनख्वा प्रांत के कबायलियों ने उनकी इस आजादी में अहम भूमिका निभाई है।

ALSO READ: गोलमाल अगेन मूवी रीव्‍यू: रोहित शेट्टी स्‍टाइल में फुली एंटरटेनिंग पैकेज है फिल्‍म
ALSO READ: जियो का धन धना धन ऑफर समाप्त

Loading...
loading...



One thought on “दो साल बाद मिली पाकिस्तान की लापता महिला पत्रकार, भारतीय नागरिक की मदद करने पर हुआ था अपहरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *