नए मिशन पर नासा : मंगल पर भेजेगा हेलिकॉप्टर, मार्स रोवर के साथ होगा लॉन्च

वॉशिंगटन। मंगल पर नासा दिन-ब-दिन नए प्रयोग कर रहा है। हाल में रोबोट्स भेजने की योजना थी लेकिन अब नासा नासा 2020 के अपने मंगल मिशन पर एक हेलिकॉप्टर भेजेगा। अमेरिकी स्पेस एजेंसी ने हाल में इसका ऐलान किया। बताया जा रहा है कि आकार में सॉफ्टबॉल जितने और सिर्फ 1.8 किलोग्राम के इस ड्रोन जैसे दिखने वाला हेलिकॉप्टर के जरिए मंगल की ज्यादा से ज्यादा जानकारी जुटाई जाएगी।

नासा का क्यूरोसिटी रोवर मंगल पर नासा के सभी अभियान संभाल रहा है। हाल ही में नासा ने मंगल पर अपना स्पेसक्राफ्ट इनसाइट भेजा था। इनसाइट 6 महीने बाद 26 नवंबर को मंगल पर उतरेगा।

हवा से भारी बनाया गया इसे

‘द मार्स हेलिकॉप्टर’ नाम के इस डिवाइस का वजन 1.8 किलोग्राम से थोड़ा कम होगा। वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस हेलिकॉप्टर के पंख 3 हजार चक्कर प्रति मिनट के हिसाब से घूमेंगे। ये पृथ्वी के एक बड़े हेलिकॉप्टर से दस गुना तेज है।

इसमें सिर्फ जहाज का ढांचा और कुछ मुख्य बॉडी पार्ट्स जोड़े जाएंगे। ड्रोन जैसे दिखने वाला मार्स हेलिकॉप्टर मंगल पर भेजा जाने वाला पहला ऐसा एयरक्राफ्ट होगा, जिसे हवा से भारी बनाया गया है। इसका आकार एक सॉफ्टबॉल जितना ही होगा। 2020 में रोवर के साथ भेजा जाएगा हेलिकॉप्टर

इंसान के जाने की संभावना तलाशेगा

रोवर के लैंड करते ही ये हेलिकॉप्टर मंगल में उड़ान भरेगा। वैज्ञानिकों के मुताबिक, ये एयरक्राफ्ट ग्रह पर जीवन की खोज करेगा, इसके अलावा प्राकृतिक संसाधनों और इंसान के जाने की संभावनाएं भी तलाशेगा।

Loading...
loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *