अब तक पुराने नोटों की गिनती कर रहा RBI, आरटीआई में हुआ खुलासा

नई दिल्ली।  नोटबंदी के एक साल बाद भी भारतीय रिजर्व बैंक वापस आए नोटों की गिनती और जांच पूरी नहीं कर पाया है। एक आरटीआइ के जवाब में यह बात सामने आई है।

rbi

8 नवंबर को हुई थी नोटबंदी

पिछले साल आठ नवंबर को सरकार ने पुराने 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने की घोषणा की थी। उसके बाद लोगों को पुराने नोट बैंकों में जमा कराने का निर्देश दिया गया था।

अब तक पूरी नहीं हुई जांच

आरटीआइ के जवाब में रिजर्व बैंक ने कहा कि, 30 सितंबर तक 500 रुपये के 1,134 करोड़ नोटों की जांच पूरी हो चुकी थी। जबकि 1000 रुपये के 524.90 करोड़ नोट जांचे जा चुके थे। इन नोटों का मूल्य क्रमश: 5.67 लाख करोड़ रुपये और 5.24 लाख करोड़ रुपये है।

30 सितंबर तक कुल 10.91 लाख करोड़ रुपये मूल्य के पुराने नोटों की जांच हो चुकी थी। रिजर्व बैंक ने बताया कि उपलब्ध मशीनों पर दो शिफ्ट में नोटों को तेजी से जांचने का काम हो रहा है।

सत्यापन की प्रक्रिया जारी

केंद्रीय बैंक से आरटीआइ के जरिये अमान्य किए गए नोटों की अब तक हुई गिनती के बारे में जानकारी मांगी गई थी। यह पूछे जाने पर कि नोटों की गिनती का काम कब तक पूरा होगा, आरबीआइ ने कहा कि, चलन से बाहर हुए नोटों के सत्यापन की प्रक्रिया लगातार जारी है।

सीवीपीएस का हुआ इस्तेमाल

बैंक ने यह भी बताया कि नोटबंदी के बाद तमाम बैंकों में जमा कराए गए 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों की गिनती में कम से कम 66 सोफिस्टिकेटेड करेंसी वेरिफिकेशन एंड प्रोसेसिंग मशीनों का इस्तेमाल हुआ। 

ALSO READ: शेख हसीना की हत्या की कोशिश करने वाले 11 लोगों को 20 साल की जेल

ALSO READ: GST से राज्यों को भारी नुकसान, केंद्र ने भरपाई के लिए दिए 8,698 करोड़

Loading...
loading...



One thought on “अब तक पुराने नोटों की गिनती कर रहा RBI, आरटीआई में हुआ खुलासा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *