हिजबुल चीफ के बेटे का खुलासा, कश्मीर में आतंकवाद बढ़ाने के लिए जुटाया था फंड

नई दिल्ली- नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की पूछताछ में हिजबुल मुजाहिदीन सरगना सैयद सलाहुद्दीन के बेटे सैयद शाहिद यूसुफ ने कई खुलासे किए। शाहिद ने बताया कि पिता के कहने पर उसने हिजबुल मुजाहिदीन कैडर से फंड लिया था। इस फंड का इस्तेमाल कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किया गया  था । बता दें कि NIA ने 2011 के टेरर फंडिंग केस में मंगलवार को शाहिद को अरेस्ट किया था।

NIA की पूछताछ में खुलासे

NIA की पूछताछ में शाहिद ने विदेशों में अपने साथियों के नाम बताए हैं, जो हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे। ये लोग विदेशों में फंड इकट्ठा करते थे और भारत में ट्रांसफर करते थे। इन नामों के आधार पर NIA आगे जांच करेगी।

सीरिया से आया था फंड

  • कश्मीर में कई आतंकी घटनाओं के लिए जिम्मेदार हिजबुल मुजाहिदीन के चीफ सैयद सलाहुद्दीन के बेटे सैयद शाहिद यूसुफ जम्मू-कश्मीर सरकार के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट में काम करता है।
  • सलाहुद्दीन के आदेश पर सीरिया में मौजूद गुलाम मोहम्मद बट नाम के संदिग्ध ने यूसुफ को कुछ पैसे भेजे थे।
  • यह पैसा 2011 से 2014 के बीच भेजा गया। यह पैसा कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियों में इस्तेमाल हुआ था।

टेरर फंडिंग में कार्रवाई

  • एक न्यूज चैनल ने 16 मई को एक स्टिंग ऑपरेशन ब्रॉडकास्ट किया था। जिसमें कश्मीर के अलगाववादियों को पाकिस्तान के आतंकी गुटों से पैसे मिलने की बात का खुलासा हुआ था।
  • इसके बाद 19 मई को एनआईए ने इन अलगाववादी नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया था और प्रिलिमिनरी इन्क्वायरी शुरू की थी।
  • एनआईए ने इस मामले में सबसे पहले 3 जून को देश में 24 जगहों पर छापे मारे थे।
  • कश्मीर में 14, दिल्ली में 8 और हरियाणा के सोनीपत में 2 जगहों पर छापे मारे गए थे।
  • कश्मीर में अब तक 7 लोगों को अरेस्ट किया जा चुका है।
  • बिट्टा कराटे, नईम खान, अल्ताफ अहमद शाह, अयाज अकबर, टी.सैफुल्लाह, मेराज कलवल और शहीद-उल-इस्लाम शामिल हैं।
  • अल्ताफ हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी का दामाद है।
  • इसके बाद सैयद शाहिद यूसुफ को भी अरेस्ट किया जा चुका है।
Loading...
loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *