योगी जी ताजमहल गिराने का फैसला लें तो हम देंगे पूरा सहयोग: आजम खान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री आजम खान ने योगी सरकार पर जमकर तंज कसा है… पर्यटन स्थलों की लिस्ट से ताजमहल का नाम बाहर होने पर आजम खां ने सीएम योगी को आडे हाथों लिया है. आजम ने कहा कि ताजमहल, कुतुब मीनार, लाल किला और संसद गुलामी की निशानी हैं, यूपी सरकार ने अच्छी पहल की है.

आजम खान ने यूपी में सत्ताधी बीजेपी सरकार के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि, एक जमाने में बात चली थी कि ताजमहल को गिराना चाहिए, अगर योगी जी इस तरह का निर्णय लेंगे तो उन्हें हमारा भी सहयोग रहेगा. गौरतलब है कि, सोमवार को यूपी सरकार ने पर्टन स्थनों पर एक बुकलेट जारी किया था.

इस बुकलेट में ताजमहल को ही शुमार नहीं किया गया जबकि, सीएम योगी आदित्यनाथ के गोरखनाथ मंदिर को जगह दी गई है. जिसके बाद इस मामले पर विवाद बढ़ गया और विपक्षी दलों ने सीएम योगी और बीजेपी पर निधाना साधना शुरू कर दिया.

योगी सरकार ने इस मामले पर सफाई भी दी है. एक प्रेस नोट में कहा गया है कि प्रो-पुअर पर्यटन योजना के तहत ताजमहल और उससे जुड़े क्षेत्र के विकास के लिए 156 करोड़ रूपए का प्रस्ताव वर्ल्ड बैंक के पास प्रस्तावित हैं. इस योजना पर अगले तीन महीने में स्वीकृति अपेक्षित है. इसके अलावा ताजमहल और आगरा किले के बीच शाहजहां पार्क और वॉक वे के पुनरुद्धार के लिए 22 करोड़ 66 लाख रूपए की परियोजना भी सम्मलित की गई है.

दरअसल, ताजमहल को लेकर सीएम योगी अक्सर हीसुर्ख़ियों में रहे हैं. दरभंगा में एक जनसभा के दौरान योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल पर टिपण्णी करते हुए कहा था कि, यह हमारी संस्कृति से मेल नहीं खाती इसलिए बदलाव आया है।

Also Read: सीता माता ने इन 4 जातियों को दिया था श्राप, आज कलयुग में ये भुगत रहीं उसका परिणाम

Also Read: 2000, 500, 200 और 50 के नए नोटों के बाद अब बदलेगा ये ‘नोट’

Loading...
loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *